जरूर पढ़िए: खूब सारा पानी न पीने पर दिखाई देते है ये संकेत!

1 week ago Vivek Rai 0

पानी हमारे जीवन के लिए बहुत जरूरी है। स्वस्थ शरीर के लिए गर्मियों के मौसम में कम से कम 10 से 12 गिलास और सर्दियों के मौसम में 8 से 10 गिलास पानी पीना चाहिए। पानी भोजन को पचाने, शरीर से विषैले पदार्थों को बाहर निकालने और खून को साफ करने का काम करता है। आवश्यकता से कम मात्रा में पानी पीने से त्वचा,  बालों और हैल्थ जुड़ी हुई कई तरह कि समस्याएं होती है, इसलिए इस तरह कि कोई समस्या न हो उससे बचने के लिए ऐसे पदार्थों का सेवन करना चाहिए जिनमें पानी की अधिक मात्रा हो। जब शरीर में पानी की कमी हो जाती है तो शरीर हमें कुछ संकेत देता है। आज हम आपको कुछ उन्हीं संकेतों के बारे में बताएंगे। शरीर में पानी की कम होने के संकेत।

सिरदर्द और चक्कर आना

शरीर में पानी की कमी होने से डिहाइड्रेशन की समस्या होने लगती है| इससे सिर में दर्द, चक्कर और उलटी आने लगती है|

स्किन ड्राइनेस

सर्दियों के मौसम में त्वचा का रूखा होना और होठों का फटना आम बात है, लेकिन कुछ लोगों को हमेशा स्किन ड्राईनेस की समस्या रहती है। इसकी वजह शरीर में पानी की कमी भी हो सकती है।

 सांसो से दुर्गंध आना

कम पानी पीने से भोजन का पाचन प्रक्रिया सही से नहीं होता है, जिसके कारण मुंह से बंदबू आने लगती है। जिन लोगों की सांसों से दुर्गंध आती है उनको दिन में 10 से 12 गिलास पानी पीना चाहिए।

 एसीडिटी

पेट में गैस का बनना,  कब्ज रहना, ठीक से खाना न पचना जैसी समस्याएं पानी की कमी के कारण ही होती है। पांचन तंत्र ठीक न रहने से व्यक्ति को शरीर से जुड़ी हुई कई तरह कि समस्याएं होने लगती है।

जोड़ो और मांसपेशियों में दर्द

शरीर में पानी कि कमी के वजह से जोड़ो में सूजन, गर्दन, हड्डियों और मांसपेशियो में दर्द होने लगता है| शरीर में पानी की कमी को दूर करके इन समस्याओं से राहत पाई जा सकती है|

दिल की धड़कन बढ़ना

अचानक दिल कि धड़कन बढ़ना, घबराहट होना भी शरीर में कम पानी होने के संकेत है| ऐसे में शरीर में पानी कि कमी न होने दे|

थकान और सुस्ती

थोड़ा सा काम करने के बाद थकान होना और हमेशा सुस्ती रहना भी शरीर में पानी की कमी होने का कारण होता है। ऐसे में जिन लोगों को हमेशा थकान रहती है उनको अधिक से अधिक पानी पीना चाहिए।