सिजेरियन डिलिवरी के साइड इफेक्ट्स से बचना है तो अपनाएं ये उपाय…

2 weeks ago admin 0

मां बनना कोई छोटी बात नहीं है ये हर औरत के लिए एक परीक्षा की तरह होता है। बच्चा पैदा होने से उसे अपने गर्भ में रखने तक महिलाओं को बहुत-सी बातों का ध्यान रखना होता है। उनकी छोटी-सी भी भूल उनके बच्चों को बहुत बड़ा नुकासन पहुचा सकती है लेकिन इन सबसे बड़ा डर होता है कि उनकी डिलिवरी किस तरह की होगी नार्मल या सिजेरियन होगी। सबसे ज्यादा डर महिलाओं के सिजेरियन डिलिवरी से लगता है क्योंकि उस से रिक्वेर होने के लिए काफी समय लग जाता है और उसका निशान को हटाने के लिए काफी सावधानी वर्तनी पढ़ती है अगर महिलाओं से जरा-सी भी गलती हूं तो उनके लिए काफी मुसीबत हो जाती है। महिलाओं को अपने उस निशान का तब तक ध्यान रखना पड़ता है जब तक वो निशान ठीक ना हो जाए। आज हम आपको बताने जा रहे है कि आप जरा-सी सावधानी वर्त के इन से जल्द ही छुटकारा पा सकती है और केवल घर में रहते हूं।

भारी सामान उठाने से बचें

अगर आपकी अभी सिजेरियन डिलिवरी हुई है तो आपको किसी भी तरह का कोई भी भारी समान उठाने से बचना होगा जब तक आपके निशान ठीक नहीं हो जाते है साथ ही आप किसी भी तरह की एक्साइज ना करें क्योंकि इसे आपके टाको में दर्द और इन्फेक्शन होगा है।

घाव को न रगड़े

अक्सर सिज़ेरियन डिलिवरी के बाद महिलाओं को पूरी बॉडी में खुजली हो जाती है। ये केवल दवाइयों के साइड़ इफ्केट होते है लेकिन ऐसे में ही महिलाओं को ऐसी खुजली होती है जो बर्दास्त से बाहर होती है। जिस वजह से वो अपने सिजेरियन टाको को रगड़ देती है। ऐसा करना बिल्कुल सही है ऐसे में महिलाओं को सिजेरियन को हल्के शॉवर से धो लेना चाहिए ना की रगड़ना चाहिए। इसे इन्फेंक्शन फैल जाता है। नहाते वक्त आपको किसी भी तरह का बैक्टीरिया फ्री साबुन को झाग मिला कर हलके हाथ से अपने सिजेरियन पर लगाए।

डॉक्टर से संपर्क जरूर करें

आप अपने सिजेरियन डिलवीरे के निशान ठीक होने के बाद आप उस पर पट्टी बंधने से पहले डॉक्टर की सलाह लें उसके बाद ही आप कोई कदम उठाए क्योकि आपको हर बार टाको की ड्रेसिंग करवानी होगी और जिस वजह से आपको बार-बार डॉक्टर के पास जाना होगा इसलिए सोच-समझकर फैसला लें।

घबराएं नहीं

अगर सिजेरियन के बाद आपके टांगे खुलने लग जाते है तो आप इस बात से डर ना नहीं ऐसा अक्सर होता है ऐसे में आप डॉक्टर के पास जाइए और उनके इलाज को फॉलो करें। सिजेरियन के बाद आप कुछ समय तक घर के कोई भी काम ना करें।