आखिर वो प्यार ही क्या, जिसमें तलाक की नौबत आ जाए

आखिर वो प्यार ही क्या, जिसमें तलाक की नौबत आ जाए

मैं 28 साल का हूं। मेरा 4 साल पहले तलाक हो गया  था। मैं अब तलाक के बाद दुबारा शादी नहीं करना चाहता। मैं जनता हूं की मैं अपनी पत्नी को समय नहीं दे पाता था, लेकिन मैंने जीवन मे बहुत संघर्ष किया है| मेरी पत्नी एक अच्छी गृहणी थी| वह घर का और मेरी बेटी का अच्छी तरह से ध्यान रखती थी|

वह हमेशा अच्छा खाना बनाती, बर्तन धोती और घर के साफ-सफाई का ध्यान रखती थी। हम लोग एक साथ देहारादून में रहते थे। मैं वहां रीटेल में काम करता था| मेरी जितनी तनख्वाह थी, वह मेरे परिवार के लिए काफी थी। मैं उसके बगैर कभी अकेला ना ही किसी पार्टी में गया और ना ही किसी दोस्त के यहां, लेकिन मैं अपनी शादी को लेकर काफी चिंतित रहता था। मेरी माँ बूढ़ी हो गई है और मैं उनका इकलोता बेटा हूं। मेरे पिता को गुजरे 14 साल हो गए हैं। मैं क्या करूं?

Related Posts

leave a comment

Create Account



Log In Your Account