संतरे के सेवन से दूर होती है ये गंभीर समस्याएं, जिनसे आप भी होंगे अभी तक अनजान!

3 months ago Vivek Rai 0

सर्दियों के मौसम में कई तरह कि बीमारियां होती है इन बीमारियों से बचने के लिए खान-पान का अच्छे से ख्याल रखना पड़ता है। इस मौसम में जरा सी लापरवाही भी सर्दी-जुकाम जैसी बीमारियों की शिकार बना देती है। वैसे तो सर्दियों के मौसम में संतरा खाना हर किसी को पसंद होता है पर शायद ही कोई इससे होने वाले फायदों के बारे में अच्छी तरह से जानता हो। सर्दियों में रोजाना संतरे या इसके जूस का लेने से जुकाम-खांसी के साथ कई बड़ी-बड़ी बीमारियां शरीर से दूर रहती है। एमिनो एसिड, फाइबर, कैल्शियम, आयोडीन, फॉस्फोरस, सोडियम, मिनरल्स, विटामिन A और B के गुणों से भरपूर संतरा कैंसर और दिल से जुड़ी हुई बीमारियों को शरीर से दूर रखता है। इसके अलावा प्रतिदिन संतरा खाने से इम्यून सिस्टम भी मजबूत होता है। तो आइए जानते है प्रतिदिन संतरे या इसके जूस का सेवन आपको किन
बीमारियों से दूर रखता है।

सर्दी-जुकाम

संतरे में मौजूद विटामिन सी सर्दी-जुकाम, खांसी और कप जैसी बीमारियों को दूर करता है। रोज इसके जूस में नींबू का रस मिलाकर पीना भी सेहत के लिए बहुत फायदेमंद होता है।


ब्लड प्रेशर कंट्रोल

फाइबर और सोडियम के गुणों से भरपूर संतरा डायबिटीज मरीजों के लिए अच्छा होता है। हमेशा इसको लेते रहने से ब्लड प्रैशर कंट्रोल रहता है।

कैंसर

संतरे मे मौजूद विटामिन ए और सी शरीर में मौजूद लाइमोनिन कैंसर सेल्स को बढ़ने से रोकते है। एक अध्यन के अनुसार संतरा लीवर और ब्रेस्ट कैंसर के खतरे को कम करता है।

किडनी की पथरी

अगर आपकों किडनी स्टोन की समस्या है तो रोजाना संतरे और इसके जूस का सेवन करें। पथरी 2-3 हफ्ते में ही निकल जाएगी।


बवासीर
संतरा पेट के अल्सर को खत्म करके बवासीर से आराम दिलाता है। इसके अलावा संतरे के छिलका का पाउडर बनाकर गर्म पानी के साथ पीने से बवासीर से छुटकारा मिलता है।

गठिया
सर्दियों के मौसम में गठिया से पीड़ित लोगों के जोड़ों और घुटनों का दर्द और भी बढ़ जाता है। ऐसे में गठिया से पीड़ित लोगो कों संतरे के रस और बकरी के दूध को मिलाकर पीना चाहिए| इससे दर्द से राहत मिलेगा|

बुखार
अगर आपको तेज बुखार है तो दिन में 2 बार संतरे के जूस का सेवन करें। संतरे का जूस शरीर के तापमान को कम करने में सहायता करता है।

पेट की समस्याएं
संतरे के रस को गर्म करके उसमें काली मिर्च और सूंड का रस मिला लें। पेट में गैस, अपच, कब्ज, बदहजमी, सूजन, इंफेक्शन और बदहजमी को दूर करने के लिए इस मिश्रण का सेवन का सेवन करें।