आपने अक्सर ही ये सुना होगा कि आजकल विश्वास करने का जमाना नहीं रहा है| ऐसा नहीं है कि इतनी बड़ी बात बस कह दी गई है, ऐसा असलियत में हो रहा है इसलिए कहा जाता है| ऐसे ही विश्वासघात का एक बहुत ही गंदा उदाहरण दिया है घर का सारा काम करने वाली नौकर ने| एक ऐसा शक्स जिसके भरोसे घर का मालिक अपना सबकुछ छोड़कर बेफिक्र होकर जाता है, उसी ने माँ बाप से उनकी बेटी, और घर के आंगन से उसकी हंसी छीन ली|

 

दरअसलधर्म नगरी प्रयागराज में एक बेहद शर्मसार कर देने वाला मामला सामने आया है। यहां खुल्दाबाद के बेनीगंज इलाके में सातवीं की छात्रा के साथ रेप की वारदात हुई है। आश्चर्य की बात है कि घटना को 55 साल के घरेलू नौकर ने अंजाम दिया है। बेटी की चीख पुकार सुनकर मदद के लिये पड़ोसी पहुंचे तो नौकर वहशीपन में बच्ची को नोंच रहा था। लोगों ने नौकर की जमकर पिटाई के बाद उसे पुलिस के हवाले कर दिया है। छात्रा को इलाज के लिए अस्पताल ले जाया गया जहां उसका मेडिकल टेस्ट भी हुआ। मामले में पुलिस ने नौकर के विरुद्ध रेप व पॉक्सो एक्ट की धारा में रिपोर्ट दर्ज कर ली है और लिखा-पढ़ी कर उसे जेल भेजा गया है। वर्षों से काम कर रहा था

 

खुल्दाबाद के बेनीगंज इलाके में रामअधार गौशाला चलाते हैं। इस गौशाला में मंझनपुर कौशांबी का रहने वाला जनार्दन (55) कई सालों से घरेलू नौकर के तौर पर काम करता था। वह साफ-सफाई से लेकर जानवरों का कामकाज देखता था। घरेलू नौकर होने के कारण राम आधार घर व बच्चों को भी उसके सहारे छोड़ कर चला जाया करता था, मंगलवार को भी कुछ ऐसा ही हुआ। रामअधार अपनी पत्नी के साथ एक रिश्तेदार के यहां निमंत्रण में चले गए। शाम को कोचिंग से बेटी राधा (13) (नाम परिवर्तित) घर लौटी और इसी दौरान घरेलू नौकर जनार्दन ने उसे अपने वहशीपन का शिकार बना लिया।

कोचिंग से लौटने के बाद राधा घर पर अकेली थी और हमेशा की तरह बेफिक्र होकर टीवी देख रही थी। इसी दौरान कुछ मांगने के लिए जनार्दन घर के अंदर पहुंचा और टीवी देख रही राधा के पास पहुंचा। इससे पहले कि राधा कुछ समझ पाती जनार्दन उसे वहशीपन से छूने लगा। अकेली राधा को देखकर जनार्दन की नीयत बदल चुकी थी और वह राधा को दबोचने लगा जिसका राधा ने विरोध किया तो जनार्दन ने उसे पीटते हुए नोंचना शुरु कर दिया।आवाज सुनकर पहुंचे पड़ोसी मदद के लिए घर की ओर आए तो घर के अंदर का नजारा देखकर सभी के होश उड गये। पड़ोसियों ने जनार्दन को पहले जमकर पीटा और फिर पुलिस को फोन किया गया। पुलिस के पहुंचने के बाद अधमरी अवस्था में जनार्दन को पुलिस को सौंप दिया गया। मामले में पुलिस ने रिपोर्ट दर्ज कर जनार्दन को जेल भेज दिया है।

 

leave a comment

Create Account



Log In Your Account