जब एक लड़का और लड़की आपस मे एक-दूसरे से प्यार करने लगते है तो, लोग उन्हें सिर्फ एक प्रेमी जोड़े की नजर से देखते है, लेकिन अगर कोई लड़की लड़के की जगह किसी लड़की से प्यार करने लगे तो, लोग बहुत-सी बातें बनाने लगते है। ऐसे में ये सारी बातें आमतौर पर सब को समझ में आती है। हाल ही में, दो लड़कियों को एक-दूसरे से प्यार हो गया जिसकी सजा उन्होंने अपनी मौत देकर चुकानी पड़ी।

दरअसल, नाबालिग लड़कियों का आपस में प्यार इतना महंगा पड़ा की दोनों को अपनी जान देना पड़ी छठी कक्षा में पढ़ने वाली दो सहेलियों की आपस में दोस्ती इतनी गहरी हो गई कि, दोनों ने साथ जीने-मरने की कसमें खाईं और घर से भाग गईं, लेकिन परिवार वालों ने दोनों को भागलपुर स्टेशन से पकड़ लिया। घर लाने के बाद दोनों को मिलने पर पाबंदी लगा दी गई तो, दोनों ने एक ही दुपट्टे से फंदा बनाकर फांसी लगा ली। मामला ककवारा स्थित विशुवाटांड़ गांव का है। पुलिस मामले की पड़ताल कर रही है।

सुत्रों के अनुसार, विशेश्वर दास की पुत्री मनीषा 15 साल की और राजेंद्र दास की पुत्री कंचन कुमारी 14 साल की थी।  गोहकारा प्राथमिक विद्यालय में छठी कक्षा में पढ़ती थीं। इसी दौरान दोनों के बीच गहरी मित्रता हो गई। 15 फरवरी को दोनों सहेलियां मौके का फायदा उठाकर घर से भाग निकली थीं। इसी दिन शाम में दोनों को भागलपुर स्टेशन से बरामद किया गया।

घर आने के बाद परिजन ने दोनों के मिलने पर पाबंदी लगा दी थी। बावजूद,  परिवार की नजर बचाकर दोनों मिल-जुल लेती थीं। रविवार देर रात को भी दोनों ने साथ ही खाना खाया और एक ही कमरे में बातचीत करती हुईं सो गईं। इसके बाद सुबह दोनों की लाश पेड़ से दुपट्टे के सहारे लटकी हुई मिली। ग्रामीणों का कहना है कि, दोनों ने खुदकशी की है। थाना अध्यक्ष राकेश रंजन और एसआइ पवन कुमार ने मौके पर पहुंचकर मामले में आवश्यक पड़ताल की। थाना अध्यक्ष ने बताया कि, मामला आत्महत्या का प्रतीत हो रहा है। बावजूद,  पुलिस सभी बिंदुओं पर जांच कर रही है।

leave a comment

Create Account



Log In Your Account